बंग भस्म

बंग भस्म

Dr.R.B.Dhawan

बंग भस्म धातु वृद्धि, वीर्य वर्धक, वीर्य वृद्धि की सर्वोत्तम आयुर्वेदिक औषधि है, जिसे सेवन करने से धातु क्षीणता, वीर्यस्त्राव, स्वप्नदोष, शीघ्रपतन आदि रोग नष्ट होते हैं।
बंग भस्म से शुक्र संस्थान के लगभग सभी रोग नष्ट होते हैं, इस भस्म में यह गुण हैं कि यह शुक्र (वीर्य) की कमजोरी को दूर करती है, जब कोई पुरूष अधिक स्त्री सेवन अथवा अथवा अप्राकृतिक मैथुन या हस्तमैथुन करने से वातवाहिनी शिरा और मासपेशियां कमजोर होकर स्त्री प्रसंग करने में असमर्थ हो जाता है। जिसके परिणाम स्वरूप मन में उत्तेजक विचार आते ही या किसी सुंदर युवती को देखने अथवा बात करने से, या अश्लील तस्वीर आदि देखने मात्र से शुक्रस्त्राव होने लगता है। एेसी दशा में बंग भस्म का सेवन करना अच्छा है। यह औषधि रोग की अवस्था के अनुसार डा. की देखरेख में लेनी चाहिए।

मेरे और लेख देखें:- aapkabhavishya.in, astroguruji.in, rbdhawan@wordpress.com, shukracharya.com पर भी।